Tuesday, 1 December 2015

याद तेरी आती है शायरी




जिनकी याद में…



जिनकी याद में हम दीवाने हो गए,
वो हम ही से बेगाने हो गए,
शायद उन्हें तालाश है अब नये प्यार की,
क्यूंकि उनकी नज़र में हम पुराने हो गए |

Sunday, 18 October 2015

दो लाइन शेर-ओ-शायरी

दिल काँच का बनाया होता..

बनाने वाले ने दिल काँच का बनाया होता .
तोड़ने वाले के हाथ मे जखम तो आया होता .
जब बी देखता वो अपने हाथों को ,
उसे हमारा ख़याल तो आया होता!...

Sunday, 11 October 2015

दो लाइन दर्द शायरी

आए ज़िंदगी में….

तुम आए ज़िंदगी मे कहानी बन कर,
तुम आए ज़िंदगी मे रात की चाँदनी बन कर,
बसा लेते है जिन्हे हम आँखो मे,
वो अक्सर निकल जाते है आँखो से पानी बन कर…

Wednesday, 2 September 2015

दर्द भरी शायरी दो लाइन


आए ज़िंदगी में….


तुम आए ज़िंदगी मे कहानी बन कर,
तुम आए ज़िंदगी मे रात की चाँदनी बन कर,
बसा लेते है जिन्हे हम आँखो मे,
वो अक्सर निकल जाते है आँखो से पानी बन कर… :(

Friday, 3 July 2015

kahe do labzo se...

mehsoos karte karte to maar dala yeh ishq nai....
lab say jo kahe na sake....chura liya tujhe kisi aur ke nazaro nai....

Dil doobne laga...

Tere chahat ke zor se dil na rukh saka
laakh manaya pyar na kar
phir bhi tere ishq ke geherai mai dil doobne laga...

Monday, 22 June 2015

दोस्त और दोस्ती के लिये…


तुज़से दोस्ती करने का हिसाब ना आया,
मेरे किसी भी सवाल का जवाब ना आया,
हम तो जागते रहे तेरे ही ख़यालो मे,
और तुझे सो कर भी हमारा ख्वाब ना आया

Wednesday, 20 May 2015

मेरा पहला पहला प्यार अधूरा रह गया


हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे,
कभी चाहा था किसी ने,तुम ये खुद कहोगे,
न होगे हम तो किसी ने ,तुम ये खुद कहोगे,
मिलेगे बहुत से लेकिन कोई हम सा पागल ना होगा.

Tuesday, 5 May 2015

दर्द भरे शायरी


एक दिन…


एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जाएँगे…..
हर एक रिश्ता इस ज़मीन से तोड़े जाएँगे……
जितना जी चाहे सतालो यारो……
एक दिन रुलाते हुए सबको छोड़ जाएँगे……

Saturday, 18 April 2015

हिंदी में दर्द भरी शायरी


मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है,
और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको, हुमारा ये पेघाम हैं,
“वादा-ए-वफ़ा करो तो फिर खुद को फ़ना करो,
वरना खुदा के लिए किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो”

Wednesday, 15 April 2015

दर्द भरी शराबी शायरी


बैठे हैं दिल में ये अरमां जगाये,
के वो आज नजरों से अपनी पिलाये |
मजा तो तब ही पीने का यारो,
इधर हम पियें और नशा उनको आये ||

Thursday, 2 April 2015

तन्हाई की शायरी



Ye tanhai bhi jane,
ek dard jaga deti hai;

dil main jo chupa hai,
ashqo ko bata deti hai;

na pukare hum naam unka,
lab har dastan suna deti hai;

tujhe dekhe bina jab ji nahi pate,
judai kaisa imtihan suna deti hai..

Laut aana tum ye jaan jane se pahle,
jindgi bewqt Anzan bena deti hai..

Wednesday, 18 March 2015

Achha lagta hai

Wo apna ho ya begana.. achha lagta hai,
Do pal uske saath bitana.. achha lagta hai,
Roz bahane karke uske karib jana.. achha lagta hai,
Ik jhalak bhi uski pana.. achha lagta hai,
Kahne ko jab chaahu.. haan kar dega wo,
Lekin phir bhi uska.. na na achha lagata hai,
Uski baat kuchh alag hai.. mujhko kuchh bhi kehle,
Jhali, pagal ya deewani.. achha lagta hai,
Usko log parwana kehte hain.. muskurata hai wo,
Mujhko kehte hai uski shama.. achha lagta hai,
Rishta hai na jane.. mera usse kya,
Mere khawabo me bhi uska aana.. achha lagta hai.

Thursday, 12 March 2015

जिंदगी की शायरी

जिंदगी  शायरी

जिंदगी मोहताज नहीं मंजीलो की,
वक्त हर मंजिल दिखा देता है…
मरता यही कोई किसी की जुदाई में,
वक्त सबको जीना सिखा देता है…

Friday, 27 February 2015

शराबी कि शायरी


शराब चीज़ ही ऐसी हाए ना छोडी जाए
ये मेरे यार के जैसी हाए ना छोडी जाए

 तेरी आँखों से यून तो सागर भी पिए हैं मैने,
तुझे क्या खबर जुदाई के दिन कैसे जिए हैं मैने…

 जो आसानी से मिले वो है गम,
जो मुश्किल से मिले वो है RUM,
जो किसी किसी से मिले वो है दम,
जो नसीब वालो को मिले वो है हम!!

Saturday, 21 February 2015

हिनदी बेवफा शायरी



दुनिया मे बेवफाओ की कमी नही अब सूरज को देख लो
आता है उशा के साथ
रहता है किरण के साथ
और जाता है संधया के साथ….

Thursday, 19 February 2015

khamoshi ka raaz hum jante hai ....

Yeh khamoshi ka raaz hum jante hai
yun chup rehne ka andaz hum jante hai
yakeen nahin aata toh apne dil se pucho
aap se behtar aap ko hum jante hai

Monday, 16 February 2015

मिस यू शायरी हिन्दी मे


मिस यू शायरी

अंदाज़-ऐ-प्यार आपकी एक अदा हे,
दूर हो हमसे आपकी खता हे,
दिल में बसी हे एक प्यारी सी तस्वीर आपकी,
जिस के निचे “आई मिस यू” लिखा हे..

Tuesday, 27 January 2015

शराबी की शायरी हिंदी मे

शराबी  शायरी


रात गुमसूँ है मगर चेन खामोश नही,
कैसे कहदू आज फिर होश नही,
ऐसा डूबा तेरी आखो की गहराई मैं,
हाथ में जाम है मगर पीने का होश नही.

Thursday, 15 January 2015

रिश्ते पर कविता

हर रिश्ते में विश्वास रहने दो;
जुबान पर हर वक़्त मिठास रहने दो;
यही तो अंदाज़ है जिंदगी जीने का;
न खुद रहो उदास, न दूसरों को रहने दो..!

Saturday, 10 January 2015

Hindi Republic Day SMS 2015


गाँधी स्वप्ना जब सत्य बना ,
देश तभी जब गणतन्त्र बना ,
आज फिर से याद करे वोह मेहनत ,
जो थी की वीरो ने ,और भारत गणतंत्र बना ।
गणतंत्र दिवस की शुभ कामनाएँ ।

तैरना है तो समन्दर में तैरो ,
नदी नालों में क्या रखा है ,
प्यार करना है तो वतन से करो .......
इन बेवफा लड़कियों में क्या रखा है ।
जय हिंद ।
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें ।

ये बात हवाओ को बताये रखना ,
रोशनी होगी चिरागों को जलाये रखना ,
लहू दे कर जिस की हिफाजत हमने की ,
ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना ।
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें ।

देश भक्तों के बलिदान से,
स्वतन्त्र हुए है हम .........
कोई पूछे कोंन हो  तो गर्व से
कहेंगे भारतीय है हम ..............
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें ।

आओ झुक कर सलाम करे उनको ,
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है ,
खुश नशीब होता है वो खून,
जो देश के काम आता है ।
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें ।

More Hindi Republic Day SMS @ http://hindisms.org

Sunday, 4 January 2015

लव शायरी हिन्दी मे



कभी हाँसता है प्यार,
कभी रुलाता है प्यार,
हर पल की याद दिलाता है यह प्यार,
चाहो या ना चाहो,
पर आपके होने का एहसास दिलाता है यह प्यार…
हैप्पी वेलेंटाइन डे ।

आपके आने से ज़िंदगी कितनी खूबसूरत है,
दिल मे बसी है जो वो आपकी ही सूरत है,
दूर जाना नही हमसे कभी भूलकर भी,
हमे हर कदम पर आपकी ज़रूरत है.
हैप्पी वेलेंटाइन डे ।

चेहरे पर बनावट का गुस्सा,
आँखों से छलकता प्यार भी है,
इस शौक़-ए-अदा को क्या कहें
इनकार भी है इक़रार भी है..
आज इक़रार कर ही दो..डियर..
हैप्पी वेलेंटाइन डे ।

Friday, 2 January 2015

Main talashti hu apne pyaar ko !!!!!!!!

Main talashti hu apne yaar ko
Kahi to hoga, koi to hoga
Jo pukarta hoga mere naam ko...

In waadiyo se puchti hu...
Uske ghar ka pataa...
Koi to hai is jahaan me...


Jo mujhe bhi dhoondhta hoga apni yaadon me.
Main talashti hu apne pyaar ko
Main talashti hu apne yaar ko

Koi to hai jo karta hoga mera intezaar
Koi to hai jo hoga bekaraar
Koi to hai jo samajhta hoga yeh khaamoshiya

Jiska dil bhi dhadakta hoga mere dil ke saath
Main talashti hu apne pyaar ko
Main talashti hu apne yaar ko


Wo manzil bhi mujhe pukaarti hogi
Wo raaste bhi muje dekhte honge
Koi to hai, jinki baahon ko
Hoga sirf mera intezaar

Main talashti hu apne pyaar ko
Main talashti hu apne yaar ko