Saturday, 12 July 2014

हिंदी शायरी जिंदगी

महसूस जब हुआ कि सारा शहर,मुजसे जलने
लगा है ,
तब समझ आ गया कि अपना नाम भी , चलने
लगा है!!!

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.