Monday, 6 January 2014

यादें शायरि

यादें शायरि


छोड़ दिया हमारा साथ कोई गम नहीं;
भूल जायेंगे आप हमें, पर भूलने वाले हम नहीं;
आप से मुलाक़ात ना हो पाई तो कोई बात नहीं;
आपकी एक याद मुलाकात से कम नहीं।

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.