Saturday, 30 November 2013

इश्क़ शायरी


इश्क़ शायरी


तन्हाईयों में मुस्कुराना इश्क है;
एक बात को सबसे छुपाना इश्क है;
यूं तो नींद नहीं आती हमें रात भर;
मगर सोते-सोते जागना और जागते-जागते सोना इश्क है।

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.