Monday, 19 August 2013

मौत पर कविता


मौत माँगते है तो जिन्दगी खफा हो जाती है,
जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है,
तू ही बता ऐ दोस्त क्या करूँ,
जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है..

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.